देश

धर्म सभाः अयोध्या जाने को लेकर उमा भारती ने उद्धव ठाकरे पर किया कटाक्ष

2005 में सीएम पद से हटाए जाने के बाद बीजपी से नाराज होकर उमा भारती पैदल ही भोपाल से रामरोटी यात्रा लेकर अयोध्या पहुंची थीं.

उमा भारती आज रायसेन जिले के सिलवानी विधानसभा क्षेत्र के बम्होरी कस्बे में बीजपी प्रत्याशी रामपाल सिंह के पक्ष में प्रचार करने पहुंचीं.

विजय सिंह राठौर, रायसेनः 1992 में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण आंदोलन का नेतृत्व करने वाली संत एवं बीजेपी की नेता उमा भारती रविवार को अयोध्या में आयोजित धर्मसभा में नही पहुंच पाईं. वर्तमान में केंद्रीय मंत्री उमा भारती रविवार को रायसेन जिले की दो विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशियों के लिए चुनाव प्रचार किया. केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने शिवसेना प्रमुख उद्भव ठाकरे पर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘अब तो कोई भी अयोध्या जा रहा है. मैं तो उस समय अयोध्या गई थी, जब मुलायम सिंह ने कहा था की उमा भारती आये तो उसके पैरों में गोली मार दी जाए. तब मैने कहा था कि मां का दूध पिया हो तो मुझे रोक कर दिखाए. मैने कार सेवकों का नेतृत्व किया था’

उमा भारती ने आगे कहा, ‘बाद में जिस दिन वीपी सिंह की सरकार गिरी उस दिन मुलायम सिंह से मिली तो मैंने उनसे कहा था. कहो भाई साहब किसने मां का दूध पिया हैं. तो वह बोले मैं मान गया कि तुमने मां का दूध पिया है. मैंने भैंस का दूध पिया हैं. मैंने आपका मान हमेश रखा है आप मेरा रखो.’

पत्रकारों ने जब उमा से सवाल किया कि अयोध्या में नया नारा पहले मंदिर फिर सरकार बुलंद हो रहा हैं तो उमा ने चुप्पी साधी और चुपचाप अगले कार्यक्रम के लिए रवाना हो गईं. उमा भारती आज रायसेन जिले के सिलवानी विधानसभा क्षेत्र के बम्होरी कस्बे में बीजपी प्रत्याशी रामपाल सिंह के पक्ष में प्रचार करने हेलीकॉप्टर से आई थी.

2005 में सीएम पद से हटाए जाने के बाद बीजपी से नाराज होकर उमा भारती पैदल ही भोपाल से रामरोटी यात्रा लेकर अयोध्या पहुंची थी. उमा भारती उस वक्त यह कहती थी कि रामलला उनके हृदय में है. लेकिन आज समय बदल गया हैं . अयोध्या में आयोजित धर्मसभा में संत होने के नाते उन्हें जाना था. लेकिन चुनावी व्यस्तता के चलते वह मप्र के चुनाव में प्रचार में लगी हुई हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close