छत्तीसगढ़

त्रिवेदी बोले…भाजपा स्मरण यात्रा निकालने से पहले अपने वादों और संकल्पों को कर लें याद…

कांग्रेस जुमलेबाज नहीं जांबाज सरकार…

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की स्मरण यात्रा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि डेढ़ दशक 15 वर्ष तक सत्ता में रहने वाले लोग अब उस कांग्रेस सरकार को वादों का स्मरण दिलाने निकले हैं जिसे सत्ता में आए 10 दिन भी नहीं हुए हैं।

जिस कांग्रेस सरकार को शपथग्रहण के बाद किसानों की कर्जमाफी में 10 दिन नहीं दस घंटे भी नहीं लगे। भाजपा द्वारा 2003, 2008 और 2013 के चुनाव में जो वायदे किए थे उसकी सूची जारी करते हुए उन्होंने कहा कि वायदे निभाने वाली कांग्रेस सरकार को भाजपा द्वारा वादों का स्मरण दिलाना सिर्फ हाथ से सत्ता फिसलने की बौखलाहट है।

एक बार जेण्डर बजट, एक बार परिणामी बजट, एक बार युवा बजट के साथ-साथ अलग कृषि बजट बनाकर गुमराह करने वाले रमन सिंह बताए कि जनता ने उनको क्यों रिजेक्ट किया। भारतीय जनता पार्टी को चाहिए कि स्मरण यात्रा निकालने के पहले उन वादों का भी स्मरण कर ले जो उसने प्रदेश की जनता से 2003, 2008 और 2013 के विधानसभा चुनाव के समय की भारतीय जनता पार्टी हर आदिवासी परिवार को 10 लीटर दूध देने वाली जर्सी गाय, आदिवासी परिवार से एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी, 5 हॉर्स पावर पंपों को मुफ्त बिजली, एक-एक दाना धान की खरीद, 5 साल तक 300 रू. बोनस देने के वादों का स्मरण कर ले उसके बाद स्मरण यात्रा निकाले तो बेहतर होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने भी सत्ता में आने के पहले 15 लाख रुपये प्रत्येक व्यक्ति के खाते में आने की बात कही थी, यह भी कहा था कि दो करोड़ रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जाएंगे, एक सिर के बदले 10 सिर लाने की बात कही थी उन वादों का क्या हुआ? भाजपा को हिसाब देना चाहिए? कांग्रेस की सरकार ने किसानों की कर्ज माफी करके अपने वादों को पूरा करने की शुरुआत कर दी है और यह सिलसिला लगातार जारी रहेगा।

चाहे पत्रकार सुरक्षा कानून हो या किसानों के हित में फैसला हो, कांग्रेस की सरकार ने बेहद सकारात्मक पहल की। उन्होंने कहा कि 2018 के विधानसभा चुनावों में प्रदेश की जनता भाजपा से पूछती रही क्या हुआ तेरा वादा ? कांग्रेस ने भाजपा से 2003, 2008 और 2013 में किए गए वादों की याद दिलाते हुए एक सूची जारी की है जो संलग्न है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Close
Close