छत्तीसगढ़

मैनपुर के जंगल में राजकीय पशु वन भैंसे की मौत…विभाग को पता ही नहीं…

गरियाबंद। जिले के मैनपुर वन परिक्षेत्र के अंतर्गत ग्राम बरदुला के जंगल में एक वन भैसा मृत पाया गया। मृत वन भैसे का नाम श्यामू बताया जा रहा है। मौत के कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।
बताया गया कि मृत पाए गए वन भैंसे की मौत 2 से 4 तीन पहले हुई है।

उसके लाश के आस पास बदबू भी आनी शुरू हो गई थी। क्षेत्र में पड़ रहे इतने कडाके की ठंड के समय किसी मृत जानवर के शरीर से इतना जल्दी बदबू आना सम्भव नहीं है। वहीं इस मृत वन भैंसे के शरीर का कुछ हिस्सा जानवर भी खा गए हैं।

इन सब बातो से वन विभाग की सक्रियता पर भी प्रश्नचिन्ह लगता है। क्योकि मृत इस वन भैंसे के शरीर में कॉलर आईडी लगाया गया था और उस जानवर का हर हरकत को उस यंत्र के माध्यम से फारेस्ट हेड ऑफिस में कंप्यूटर के द्वारा देखा जाता है परन्तु इस श्यामू नाम का वन भैंसा की मौत मंगलवार या बुधवार को होने का अनुमान लगया जा रहा है।

इससे साफ जाहिर होता है कि है कि वन भैंसा के देखरेख में लगे उच्च अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया। मृत उस वन भैंसे की मौत कैसे हुई और कब हुई ये पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही खुलासा होगा।

ज्ञात हो कि शासन प्रशासन द्वारा वन भैंसे को राजकीय पशु मानते हुए इसके संरक्षण के लिए हर वर्ष करोड़ों का आबंटन दिया जा रहा था ताकि इसका देखरेख में कोई कमि न आने पाए। वहीं इसके देखरेख के लिए इस वन भैंसे में कॉलर आईडी भी लगाया गया था। ताकि इसका पालन पोषण उचित हो सके और इस पर आसानी से नजर भी रखा जा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close