मनोरंजन

बॉलीवुड में राजनीतिक घालमेल!

डीएन त्रिपाठी
दोस्तों आप भी सोच रहे होंगे कि बॉलीवुड में तो फ़िल्मी सितारों का ज़िक्र होना चाहिए ये राजनीति कहाँ से आ गयी। अब आ गयी तो आ गयी। स्वागत है। कैसे ?… वो ऐसे कि साल 2019 भारत देश की राजनीति के लिए बहुत अहम् होने वाला है। इस साल लोकसभा का चुनाव यानी देश के प्रधानमंत्री का चुनाव होने वाला है। प्रधानमंत्री मोदी जी की प्रतिष्ठा और उनकी लहर की असली परीक्षा है। पिछले 5 वर्षों में मोदीजी ने जिस तरह पूरे देश और दुनिया में जो अपनी साख बनायीं है उसकी परीक्षा है। देश के प्रबुद्ध नागरिक की आम जान मानस की सोच की परीक्षा है।

साथ ही इस साल रिलीज़ होने वाली कुछ फिल्मों पर एक नज़र डालते है। अगले हफ्ते विक्की कौशल की नयी फिल्म उरी भी पाकिस्तान पर भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है. जिसमे दर्शाया गया है कि देश में इस समय मज़बूत नेताओं के हाथों में कमान होने पर भारत देश पडोसी दुश्मन देश के घर में घुसकर उसको मारकर वापस आता है। देश जानता है कि इस समय देश की कमान किसके हाथ है। सो राजनैतिक हलकों में इस फिल्म की चर्चा होना लाज़मी है।

इसके बाद आने वाली फिल्म संजय बारू की पुस्तक द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर यानी पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह जी के प्रधानमंत्री बनने और उनके पूरे 10 सालों का लेखा जोखा है। फिल्म में दर्शाया गया है कि किस तरह डॉ मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री रहते हुए भी कैसे सोनिया गाँधी जी के अधीन काम किया करते थे। उनकी हैसियत सिर्फ एक अफसर की तरह या बोले तो एक रबर स्टाम्प की तरह ही थी। वो कोई भी फैसला खुलकर नहीं ले पाते थे. हालांकि उनकी ईमानदारी पर कोई शक नहीं है फिर भी उनके प्रधानमंत्री रहते रिकॉर्ड तोड़ घोटाले हुए थे। जिससे देश बर्बाद होने के कगार पर आ गया था। फिल्म में डॉ मनमोहन सिंह जी का किरदार अनुपम खेर ने बखूबी निभाया है।

एक और फिल्म जिसका काफी ज़िक्र है और वो है ठाकरे। इस फिल्म में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे ने कैसे डंके की चोट पर महाराष्ट्र और पूरे देश में मराठी मानुष का दबदबा बनाया था. और बाद में ये पूरे हिन्दू समाज के लिए भी गौरवशाली साबित हुए। इस फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे वो एक साधारण व्यक्ति से एकछत्र राज्य करने वाले नेता साबित हुए। कैसे उन्होंने हिन्दुओं का सर ऊंचा उठाया। कैसे उन्होंने देश की राजनीति में अपना एक महत्त्वपूर्ण मुकाम बनाया।

और अंत में अभी हाल ही में एक नयी फिल्म का भी पोस्टर रिलीज़ हुआ है जो देश के प्रधानमंत्री मोदी जी के जीवन पर आधारित है। फिल्म में मोदी जी का किदार विवेक ओबेरॉय ने निभाया है। ज़ाहिर है फिल्म में मोदी जी का महान चरित्र को दर्शाया गया होगा।

खैर इन सभी फिल्मों से देखा जाए तो भाजपा का ही फायदा होता दिखता है और भाजपा फायदे में तो मोदी जी भी फायदे में। देखना ये है कि इतने सारे अनुकूल माहौल के बावजूद भी भाजपा अगले चुनाव में देश के सारे नेताओं और पार्टियों से आगे निकल पाती है या नहीं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close