देश

पंचायत चुनाव की मतगणना के दौरान भिड़े TMC और BJP कार्यकर्ता, लाठीचार्ज : पश्चिम बंगाल

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में गुरुवार को पंचायत चुनाव की मतगणना के दौरान बीरभूम में छिटपुट हिंसा हुई. वहां एक मतगणना केंद्र के बाहर तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक हुई. पुलिस को व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. बता दें गुरुवार (17 मई) सुबह आठ बजे से ही पंचायत चुनाव में पड़े वोटों की गिनती 291 मतगणना केंद्रों पर हो रही है.

पंचायत चुनावों में बड़े स्‍तर पर हुई हिंसा को देखते हुए मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा चाकचौबंद की गई थी. कुल 31,814 सीटों के शुरुआती नतीजों में तृणमूल कांग्रेस ने 2,467 सीटें जीती हैं. वहीं बीजेपी ने 386 सीटें और माकपा ने 94 सीटें जीती हैं. शुरुआती रूझानों के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस ने 2,683 सीटों पर बढ़त बना ली है. जबकि भाजपा 231 सीटों और माकपा 163 सीटों पर आगे चल रही हैं. बता दें कि प्रदेश में 14 मई को 621 जिला परिषद, 6,123 पंचायत समितियों और 31,802 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ था. मतगणना में किसी भी प्रकार की हिंसा और अव्‍यवस्‍था की आशंका को टालने के लिए पुलिस ने सुरक्षा के चाकचौबंद इंतजाम किए हैं. प्रत्‍येक मतदान केंद्र पर भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है.

पुलिस ने जलपाईगुड़ी के पॉलीटेक्निक इंस्‍टीट्यूट के मतगणना केंद्र से 40 मोबाइलों को सीज भी किया है. बता दें कि पश्चिम बंगाल में 621 जिला परिषदों, छह हजार से अधिक पंचायत समितियों और करीब 31 हजार ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ है. पूरे पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को जिन 568 मतदान केन्द्रों पर हिंसा की शिकायतें मिली थीं, वहां 16 मई को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच फिर से मतदान कराए गए थे. राज्य निर्वाचन आयोग ने बताया था कि जिन मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान हो रहे हैं वे राज्य के सभी 20 जिलों में स्थित हैं.

सूत्रों के मुताबिक कि 3,358 ग्राम पंचायतों की 48,650 सीटों में से 16,814 सीटों पर, इसी तरह 341 पंचायत समितियों की 9,217 सीटों में से 3059 सीटों पर जबकि 20 जिला परिषदों की 825 सीटों में से 203 सीटों पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है. पंचायत चुनाव के शुरुआती नतीजों और रुझानों में तृणमूल कांग्रेस को बढ़त मिलने के साथ ही उसके समर्थक और कार्यकर्ताओं में खुशी की जहर छा गई है. सभी सड़कों पर खुशी मनाने उतर आए हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close