विकास यात्रा 2018

विकास यात्रा 2018 : ​​​​​​​उज्ज्वला से रसोई घर में आ रही रौनक खिल उठे गरीब महिलाओं के चेहरे

रायपुर| मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज बिलासपुर जिले के मस्तूरी वेदपरसदा में प्रदेश व्यापी विकास यात्रा के दौरान आयोजित आमसभा में गरीब परिवारों की महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए। इससे ये महिलाएं काफी खुश हैं। वेदपरसदा की उम्रदराज मुनिया बाई को भी आज गैस सिलेण्डर और चूल्हा मिला। मुनिया बाई के लिए गैस चूल्हे में खाना बनाना बिल्कुल नया अनुभव रहेगा। अभी वे ये सोच-सोच कर उत्साहित है कि इस चूल्हे को न तो सुलगाने का झंझट है और न ही धुंए की परेशानी। खाना भी फटाफट बन जाता है। इसी गांव की एक और महिला करूणा को भी रसोई गैस कनेक्शन मिला है। करूणा इसलिए खुश है कि आठवीं मंे पढ़़ रहे अपने बच्चे के लिए समय पर टिफिन तैयार कर पाएंगी। वे कहती हैं कि मैं खुद पांचवी तक पढ़ पाई हूं,, लेकिन चाहती हूं कि मेरा बेटा खूब पढ़े। करूणा कहती हैं कि खाना बनाने का बहुत सारा समय बच जाएगा और अब वह अपने बुजुर्ग सास-ससुर के लिए ज्यादा समय दे पाएगी।
करूणा और मुनिया बाई दोनों ही उन दर्जनों महिलाओं में शामिल है, जिन्हें आज मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मस्तूरी में उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन चूल्हा और सिलेंडर दिया। रसोई गैस कनेक्शन मिलने से ये महिलाएं खुश हैं। मुनिया और करूणा के गांव वेदपरसदा में अभी-अभी हांका पड़ा है कि सरकार मुफ्त में मोबाइल बांटने वाली है। इसलिए जल्दी से जल्दी फार्म भर ले। करूणा कहती है कि मोबाइल मिल जाएगा तो वह अपने मायके रोज बात कर पाएगी, जो वेदपरसदा से बहुत दूर सराईपाली के पास है। इस तरह करूणा के गैस कनेक्शन ने उसका ससुराल संवारा, अब सरकार से मिलने वाला मोबाइल मायका भी संवार देगा। वहीं उम्रदराज मुनिया बाई के लिए भी जमाना बदल गया है। पति का नाम क्या है ? – मुनिया से पूछो तो वह अपने सहेलियों का मुंह तकने लगती है। कहती हैं-मैं कैसे बताहुं तुम लोग बता दो, लेकिन जब करूणा से उसके पति का नाम पूछो तो पट से कहती है-सुखसागर गोड़। करूणा नये जमाने में पैदा हुई और मुनिया बाई के लिए जमाने में बदलाव आज से शुरू हुआ। अब सहेलियां मुनिया बाई से कहती है-तहुं गैस सिलेंडरवाली होगे हस। अपन आदमी के नाम तैं खुद बता और मुनिया बाई फिर धीरे से बताती है-संतराम देवांगन।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close