छत्तीसगढ़

हमर छत्तीसगढ़ योजना का विस्तार : संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्य भी आएंगे राजधानी के अध्ययन भ्रमण पर

रायपुर| पंचायत प्रतिनिधियों, सहकारिता प्रतिनिधियों और स्वसहायता समूह की महिलाओं के बाद अब संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्य भी हमर छत्तीसगढ़ योजना के तहत राजधानी के अध्ययन भ्रमण पर आएंगे। योजना के तहत प्रदेश के सभी 32 वनमंडलों में गठित सात हजार 887 संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के प्रतिनिधि दो दिवसीय अध्ययन प्रवास पर रायपुर आएंगे। इस दौरान वे रायपुर और नया रायपुर के अनेक स्थानों का भ्रमण कर छत्तीसगढ़ में पिछले डेढ़ दशकों में हुए विकास और राज्य की उपलब्धियों से रू-ब-रू होंगे।

संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्यों के अध्ययन दौरे की तैयारी के लिए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री आर.पी. मंडल ने सभी कलेक्टरों को परिपत्र जारी किया है। उल्लेखनीय है कि हमर छत्तीसगढ़ योजना की उपयोगिता को देखते हुए अभी हाल ही में 26 जून को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में योजना की अवधि तीन महीने बढ़ाने और संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्यों को इससे जोड़ने का निर्णय लिया गया था।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा आज यहां मंत्रालय से कलेक्टरों को जारी परिपत्र के अनुसार संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के प्रतिनिधि अगले तीन महीनों तक लगभग 650-650 की संख्या में दो दिनों के अध्ययन भ्रमण पर राजधानी आएंगे। सितम्बर 2018 तक लगभग 16 हजार प्रतिनिधियों को भ्रमण कराने का लक्ष्य है। अध्ययन प्रवास पर आने वाली हर समिति को अपने इलाके से स्थानीय प्रजाति का एक फलदार पौधा लाने कहा गया है जिसे नया रायपुर में रोपित किया जाएगा।

परिपत्र में अपर मुख्य सचिव श्री आर.पी. मंडल ने रायपुर, दुर्ग एवं बिलासपुर संभाग के प्रतिनिधियों को भ्रमण के पहले दिन सवेरे नौ बजे के पूर्व हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान पहुंचने के लिए निर्देशित किया है। बस्तर एवं सरगुजा संभाग के प्रतिनिधियों को अध्ययन भ्रमण के एक दिन पहले रात नौ बजे के पूर्व आवासीय परिसर पहुंचने कहा गया है। श्री मंडल ने योजना से जुड़े पंचायत एवं वन विभाग के सभी अधिकारियों को भ्रमण के निर्धारित कार्यक्रमानुसार सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सदस्यों के अध्ययन दौरे की शुरूआत आगामी 10 जुलाई से होगी। इस दिन बस्तर, बीजापुर, सरगुजा, जशपुर और मरवाही वनमंडल के प्रतिनिधि अध्ययन प्रवास पर राजधानी आएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close