देश

पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

नेशनल डेस्कः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को श्रदांजलि अर्पित करते हुए कहा कि स्वर और शब्द देने वाले और देश के भविष्य को दिशा देने वाले हम सभी के प्रेरणा स्त्रोत अटल अब नहीं रहे। अटल जी के रूप में भारत वर्ष ने आज अपना अनमोल रत्न खो दिया है।
पीएम ने कहा कि अटल जी का विराट नेतृत्व और उनके जाने का दुख दोनों ही शब्दों के दायरे से परे है। वो एक जननायक, प्रखर वक्ता, ओजस्वी कवि, पत्रकार और प्रभावशाली अंतरराष्ट्रीय व्यक्तित्व के धनी और सबसे बढ़कर मां भारती के सच्चे सपूत थे। उन्होंने कहा कि उनके निधन से एक युग का अंत हो गया है। उनका निधन संपूर्ण राष्ट्र के लिए अपूर्णनीय छति है।
मोदी ने कहा मेरे लिए अटल जी का जाना पिता तुल्य सरंक्षक का साया सिर से उठने जैसा है। उन्होंने कहा कि उन्होंने मुझे संगठन और शासन दोनों का महत्व समझाया। पीएम ने कहा कि दोनों में काम करने की शक्ति और सहारा दिया। वे जब भी मिलते थे पिता की तरह खुश होकर आत्मीयता के साथ गले लगाते थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरे लिए उनका जाना एक ऐसी कमी है जो कभी भर नहीं पाएगी। अटल जी ने अपने कुशल नेतृत्व और अविरल संघर्ष द्वारा जनसंघ से लेकर भाजपा तक इन संगठनों को मजबूती से खड़ा किया।
अटल जी ने भाजपा के विचारों और नीतियों को देश में जन-जन तक पहुंचाने का काम किया। उन्हीं के दृढ़ निश्चय और कठिन परिश्रम का परिणाम है कि आज भाजपा की यात्रा यहां तक पहुंची है। अटल जी भले ही हमें छोड़कर चीतनिद्रा लीन हो गए हैं। लेकिन उनकी वाणी, उनका जीवन, उनके विचार, उनकी सादगी, उनका दर्शन हम समस्त भारतवासियों को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा।
प्रधानमंत्री ने कहा, उनका ओजस्वी, तेजस्वी और यशस्वी व्यक्तित्व सदा हम देशवासियों का मार्गदर्शन करता रहेगा। अपार शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदना उनके परिवार और समस्त देशवासियों के साथ है। इस दुख की घड़ी में मैं अटल जी के चरणों में मैं आदरपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। बता दें कि आज अटल जी ने 93 वर्ष की उम्र में एम्स में निधन हो गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close