छत्तीसगढ़

रायपुर : डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में लोक कलाकार बता रहे बीमारी से बचने के उपाए

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा डेंगू और चिकनगुनिया से बचने के लिए लोगों को लोक-कला के जरिए जागरूक किया जा रहा है। लोक कला दल डेंगू के कारण, लक्षण तथा उपायों की जानकारी नाचा शैली के माध्यम से दे रहे हैं। इसके लिए भिलाई-दुर्ग के ऐसे क्षेत्रों का चयन किया गया है, जो डेंगू से ज्यादा प्रभावित हैं। डेंगू से प्रभावित क्षेत्र कुर्सीपार, बापूनगर, अंडा चैक, अंबेडकर नगर, छावनी स्वास्थ्य केन्द्र, राजीव नगर, शंकर नगर, संतोषी पारा, जेपी नगर मिलन चैक, रामनगर, मुक्तिधाम, चैता मैदान, इंदिरा पारा सुपेला, सुपेला पांच रास्ता, संजय नगर, देवांगन मोहल्ला, कोसानाला, शहरी स्वास्थ्य केन्द्र, हथखोज, भिलाई 3, पुरैना स्टोर पारा, डबरा पारा तथा पुरानी बस्ती में लोक कला के माध्यम से लोगों जानकारी दी जा रही है।
भिलाई-दुर्ग में डेंगू के बचाव एवं नियंत्रण के लिए शहर के चैक-चैराहों पर जिला प्रशासन, नगर पालिका निगम, शहरी स्वास्थ्य मिशन तथा स्वयंसेवी संस्थानांे द्वारा होर्डिंग्स लगाए गए हैं। होर्डिंग में डेंगू के कारण, लक्षण व बचाव की जानकारी प्रदर्शित की गई है। पूरे दुर्ग-भिलाई क्षेत्र में डेंगू से बचने की जानकारी दी गई है। साथ ही गली-मोहल्ले में लाउडिस्पकर और पोस्टर, स्टीकर तथा पाम्पलेट के माध्यम से घर-घर जाकर जागरुक किया जा रहा है। वहीं मेडिकल काॅलेज के छात्र-छात्राओं द्वारा फीवर क्लिनिक के माध्यम से उपचार किया जा रहा है। नगर निगम द्वारा घर-घर जाकर कूलर और पानी की टंकी को साफ कराया जा रहा है। घर-घर जाकर डेंगू मच्छर किन स्थानों पर पनपते हैं कि जानकारी दे रहे हैं। वहीं लार्वा को मारने के लिए टेमीफास डाली जा रही है। सोशल मीडिया के माध्यम से भी डेंगू से बचाव की जानकारी दी जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close