व्यापार

पंजाब में 10-15 लाख टन कम धान की खरीद होने का अनुमान

चंडीगढ़ः पंजाब में बेमौसम बरसात की वजह से उपज पर असर पडऩे से खरीफ विपणन वर्ष 2018-19 के दौरान धान की खरीद पिछले साल से 10 से 15 लाख टन कम रहने की संभावना है। पंजाब के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु ने शनिवार को कहा, ‘पिछले साल की तुलना में धान की खरीद चालू सत्र में कम रहने के आसार हैं। यह कमी 10 लाख टन से अधिक की हो सकती है।’

पिछले साल प्रदेश में धान की खरीद 178 लाख टन थी। इस बार यह 165 से 170 लाख टन तक रहने की उम्मीद है। पंजाब के कृषि निदेशक जे एस बैन्स ने कहा, ‘हमें लगता है कि पिछले साल खरीदे गए धान की तुलना में इस वर्ष खरीद 10-15 लाख टन कम होगी।’ पंजाब ने 2018-19 सत्र के लिए 200 लाख टन धान उत्पादन के मुकाबले धान उत्पादन अनुमान घटाकर 185 से 190 लाख टन कर दिया है।

अधिकारी ने कहा कि चालू फसल खरीद के दौरान अब तक अनाज मंडियों में कुल 107 लाख टन धान खरीदा गया है, जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में लगभग 30 से 35 लाख टन कम है। सितंबर के महीने में बेमौसम बारिश के कारण धान की पैदावार प्रभावित हुई थी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘धान में नमी के 17 प्रतिशत के मानदंड के मुकाबले मंडी में आने वाले धान में नमी की मात्रा 21-22 प्रतिशत के दायरे में और कुछ स्थानों पर इससे भी अधिक है।’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close