January 21, 2022

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

अंतरराज्यीय गांजातस्करी के मामले में बालोद पुलिस को मिली बड़ी सफलता

साईबर सेल टीम बालोद एवं थाना गुरूर केे द्वारा की गई संयुक्त कार्यवाही
ओएलएक्स के माध्यम से आॅनलाईन खरीदे वाहन में की जा रही अवैध तस्करी।
उड़ीसा से गांजा खरीदकर भिलाई एवं गाजियाबाद एनसीआर यू.पी.में करते है खपत।
पुलिस से बचने के लिए फर्जी सिम का करते थे प्रयोग।
दिल्ली सहित मांडला, दुर्ग के अंजोरा एवं केाकाल से गांजा तस्करी मामले में पूर्व में जा चुके है जेल।
गिरोह में शामिल सदस्यों को दी जाती थी अलग-अलग जिम्मेदारी।

जिला बालोद के थाना/चौकी क्षेत्र मे  अवैध मादक पदार्थ के परिवहन को रोकने के लिऐ पुलिस अधीक्षक बालोद श्री सदानंद कुमार के द्वारा चलाये जा रहे अभ्िायान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोद श्री डी.आर. पोर्ते के मार्गदर्शन, अनुविभागीय पुलिस अध्िाकारी श्री प्रतीक चतुर्वेदी के सतत् पयZवेक्षण में दिनांक 16.11.2021 टोल प्लाजा के पास एन.एच.30 रोड जगतरा पुलिस चा ैकी पुरूर थाना गुरूर द्वारा एम.सी.पी. लगाकर वाहन चेकिंग के दौरान वाहन क्रमांक सी.जी.04 एच.ए.9097 फोर्ड फ्यूजन वाहन में अवैध मादक पदार्थ गांजा 22 किला े 500 ग्राम प्लास्िटक की बोरी में भरे हुए कुल  कीमती 2,25,000 रू जप्त किया गया था। मौके से चेकिंग के दौरान आरोपी गण फरार हो गए थे। पुलिस सहायता केंद्र प्रभारी शिशिर पांडे द्वारा अज्ञात आरोपियों के विरूद्व वाहन मे अवैध मादक द्रव्य गांजा की अवैध तस्करी करते हुए पाये जाने पर 20(बी) एनडीपीएस एक्ट 1985 के तहत अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया था एव फरार अज्ञात आरोपिंयों की पता तलाष की जा रही थी। फरार आरोपियों की पता तलाष हेतु पुलिस अधीक्षक श्री सदानंद कुमार द्वारा प्रभारी साईबर सेल बालोद निरीक्षक श्री रोहित मालेकर क  नेतृत्व मे  एक विषेष टीम तैयार किया गया। टीम द्वारा वाहन घटना मे  प्रयुक्त वाह�