September 17, 2021

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

असम-मिजोरम में बॉर्डर पर झड़प दोनों राज्यों के सीएम में भी ‘तकरार’, गृहमंत्री अमित शाह ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को असम और मिजोरम दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की है. इस दौरान उन्होंने दोनों राज्यों के बॉर्डर पर हुई हिंसक झड़प को लेकर बातचीत की और दोनों सीएम से विवाद सुलझाने को कहा. मुख्यमंत्रियों ने गृह मंत्री को विवाद सुलझाने और मामले को जल्द ठंढ़ा करने का भरोसा दिया है. इससे पहले दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री ने इस मामले में गृह मंत्री अमित शाह से हस्तक्षेप की मांग की थी.


सोमवार को मिजोरम के सीएम जोरमथंगा ने पुलिस और नागरिकों के बीच झड़प का एक वीड‍ियो गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए ट्वीट किया और इस मामले पर तुरंत कार्रवाई करने की मांग की. इसके जवाब में असम पुलिस ने भी एक ट्वीट किया. असम पुलिस ने कहा, ‘यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि मिजोरम से कुछ असामाजिक तत्‍व असम के सरकारी अधिकारियों पर पथराव कर रहे हैं. ये अधिकारी लैलापुर में असम की जमीन की अतिक्रमण से रक्षा करने के लिए तैनात हैं.

वहीं असम के सीएम हिमंता बिस्‍वा शर्मा ने ट्विटर पर लिखा, माननीय जोरमथंगा जी, कोलासिब (मिजोरम) के एसपी ने हमसे कहा है कि जब तक हम अपनी पोसट से पीछे नहीं हट जाते तब तक उनके नागरिक सुनेंगे नहीं और हिंसा नहीं रोकेंगे. ऐसे हालात में सरकार कैसे चला सकते हैं?’ इसके बाद उन्‍होंने अमित शाह और प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए लिखा है, ‘आशा है कि आप जल्‍द से जल्‍द दखल देंगे.’

और पढ़ें- राहुल गांधी बोले- पेगासस का इस्तेमाल राजनीतिक हथियार के तौर पर हुआ, गृहमंत्री इस्तीफा दें

इस ट्वीट के जवाब में जोरमथंगा ने ट्वीट किया, हिमंता जी, माननीय अमित शाह जी ने दोनों मुख्‍यमंत्रियों की सौहार्दपूर्ण बैठक कराई थी. उसके बाद आश्‍चर्यजनक रूप से आज मिजोरम में वेरिंगटे ऑटो रिक्‍शा स्‍टैंड के पास असम पुलिस की दो कंपनियां नागरिकों के साथ आईं और वहां मौजूद नागरिकों पर आंसू गैस के गोले दागे और लाठी चार्ज किया. उन्‍होंने सीआरपीएफ और मिजोरम पुलिस के जवानों को भी भगा दिया.’

हिमंता बिस्‍वा शर्मा ने एक और ट्वीट किया है. ट्वीट में उन्होंने कहा कि मेरी सीएम जोरमथंगा से बात हुई है. मैंने दोहराया है कि असम बॉर्डर पर यथास्थिति बरकरार रखेगें. जिससे कि शांति बनी रहे. उन्होंने मिलकर बातचीत करने की भी बात कही है. अमित शाह अभी दो दिन पहले ही पूर्वोत्तर के अपने दौरे के दौरान शिलांग में नार्थ-ईस्ट से सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों से मिले थे.