July 26, 2021

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

नवापारा में गोधन न्याय योजना के तहत गोबर खरीदी बंद, साल भी पूरी नहीं कई पाई योजना

विश्वेश्वर हिरवानी 

पालिका अधिकारी ने दिया जगह की कमी का हवाला

विधायक,पालिका अध्यक्ष व सीएमओ को पत्र सौंपने के बाद भी नहीं हो पाई खरीदी प्रारम्भ

नवापारा राजिम :– स्थानीय गोबरा नवापारा शहर में गोधन न्याय योजना के तहत अब गौ पालक को न्याय मिलता नजर नहीं आ रहा है. कोरोना महामारी के दूसरी लहर के बाद निर्मित हुई लॉक डाउन की स्थिति के बाद आज दो महीने से ज्यादा दिन बीत गए लेकिन वापस गोबर खरीदी प्रारम्भ नहीं हो पा रही है. जिससे नवापारा में इस योजना के तहत गोबर बेचने वाले गौ पालक बेहद निराश और परेशान है. आज से महज 20 दिन पूर्व सभी पशु मालको ने क्षेत्रीय विधायक धनेन्द्र साहू, पालिका अध्यक्ष धनराज मध्यानी व सीएमओ राजेंद्र पात्रे से मुलाक़ात कर उन्हें अपनी समस्याओ से अवगत कराते हुए पून: गोधन न्याय योजना को चालू कराने की मांग की थीं. लेकिन आज पर्यंत तक यह योजना पुनः चालू नहीं हो पा रही है.

 

इस मामले में हताश गौ पालको को पालिका अधिकारी द्वारा जगह की कमी का हवाला देते हुए चलता कर दिया जा रहा है. सोमवार को पुनः एक बार गौ मालक सौंपे पत्र पर कार्यवाही ना होते देख पालिका पहुंचे और सीएमओ से मुलाक़ात कर उन्हें जल्द से जल्द गोबर खरीदी प्रारम्भ करने की मांग की. अब देखना है की अब नवापारा में गोधन न्याय योजना वापस चालू हो पाती है की नहीं या जगह की कमी का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की महत्वकांक्षी योजना पर पानी फेरने का काम करती है. पालिका पहुंचे नाराज पशु मालको में जीतेन्द्र यादव, जगदीश यादव, मोहन यादव, तूल्लू साहू लीला यादव, सागर यादव, हरीश यादव, दल्लू, विष्णु, संतराम, मोनू, भानु, बल्लु, गज्जू, टिंकू, राज, संतोष, बिसहत, द्वारिका, पप्पू तारक, रामाधार, रामचरण, राधेश्याम, गोकुल, राजेश, कोमल सहित अन्य लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

क्या कहते है पालिका अध्यक्ष

वहीँ इस पुरे मामले में पालिका अध्यक्ष ने भी खरीदी बंद में जगह की कमी को वजह बताया, फ़िर भी उन्होंने अब इस मामले पर संज्ञान लेते हुए इस पर जल्द समाधान निकालने की बात की है.