October 28, 2021

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

पंचतत्व में विलीन हुए ‘रफ्तार के सरदार’, पंजाब में एक दिन का राजकीय शोक

देश के दमदार धावक व अपनी उपलब्धियों से दुनिया में भारत का नाम करने वाले एथलीट मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात निधन हो गया. कोरोना से ठीक होने के बाद वह कोरोना से जूझने के बाद फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह जिंदगी की जंग हार गए हैं. इसी हफ्ते उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह का देहांत भी कोरोना की वजह से हो गया था, मिल्खा सिंह ने 91 साल की उम्र में अपनी अंतिम सांस ली. वहीं निर्मल मिल्खा सिंह 85 वर्ष की थीं.

बीते दिनों ही मिल्खा सिंह कोरोना निगेटिव हुए थे, लेकिन अचानक से उनकी तबीयत नाजुक होने लगी इसके बाद उन्हें चंडीगढ़ के PGI अस्पताल में भर्ती किया गया था. जहां उनका निधन हो गया. मिल्खा सिंह का अंतिम संस्कार आज शाम चंडीगढ़ के सेक्टर 25 स्थित श्मशान घाट में हुआ.

‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह की पत्नी का कोरोना से निधन

इसी हफ्ते पत्नी की मौत हो जाने के बाद वे मिल्खा सिंह अपनी पत्नी के दाह संस्कार में भी शामिल नहीं हो सके थे क्योंकि वे खुद भी आईसीयू में भर्ती थे. चंडीगढ़ के PGIMER अस्पताल ने भी एक स्टेटमेंट जारी करके उनके निधन की सूचना दी है. अस्पताल ने अपने स्टेटमेंट में बताया है ”मिल्खा सिंह 3 जून को PGIMER अस्पताल में भर्ती हुए थे. 13 तारीख तक यहां उनका कोरोना का इलाज चलता रहा. अंततः वे कोरोना नेगेटिव आ गए.

हालांकि बाद में पोस्ट कोविड दिक्कतें आने के कारण उन्हें कोविड अस्पताल से मेडिकल ICU में भर्ती कर दिया गया. लेकिन डॉक्टरों की टीम के द्वारा की गई पूरी कोशिशों के बाद भी वे क्रिटिकल कंडीशन से बाहर नहीं आ सके और 18 जून की रात 11.30 बजे वे स्वर्ग के लिए प्रस्थान कर गए.”

WHO के महानिदेशक ने भी किया ट्वीट

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एदानोम गेब्रेसस ने ट्वीट कर लिखा है,”WHOSEARO के गुडविल एंबेसडर मिल्खा सिंह जी के निधन की खबर दुख हुआ. मिल्खा आपने हमारे लिए हेल्थ को प्रमोट करने के लिए जो कुछ भी किया उसके लिए धन्यवाद. परिवार और उनके परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं.”

राजकीय सम्मान के साथ दी जाएगी अंतिम विदाई

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मिल्खा सिंह का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान से होगा और पंजाब में एक दिन का शोक भी रखा जाएगा. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मिल्खा सिंह के अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थल पर भी पहुंचे.

पीएम समेत कई हस्तियों ने जताया दुख

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनके निधन पर दुःख व्यक्त करते हुए कहा है ”हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है.” वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर मिल्खा सिंह के निधन पर शोक प्रकट किया है. उन्होंने लिखा है, ”मिल्खा सिंह एक बेहतरीन एथलीट और स्पोर्टिंग लेजेंड थे. उन्होंने अपनी उपलब्धियों से देश को गौरवंतित महसूस कराया था.वह एक शानदार व्यक्ति थे, अपनी अंतिम सांस तक उन्होंने खेल के क्षेत्र में अपना योगदान दिया. उनके निधन की खबर से मैं दुखी हूं. उनके परिवार और प्रशंसकों को संवेदनाएं. ओम शांति.’

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने ट्विटर पर मिल्खा सिंह का एक वीडियो साझा करते हुए उनकी आखिरी इच्छा पूरी करने की बात कही है. वीडियो में मिल्खा सिंह कहते नजर आ रहे हैं कि वो चाहते हैं कि भारत का कोई एथलीट ओलंपिक में जाए और गोल्ड मेडल जीते.

मिल्खा सिंह को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे खेल मंत्री

इस बीच खबर है कि केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू और वीपी सिंह बदनौर का कार्यक्रम बदल गया है. अब वह सीधे 5 बजे सेक्टर-25 के श्मशान घाट में पहुंचेंगे और महान धावक मिल्खा सिंह को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे. पहले वह दोनों सेक्टर-8 स्थित मिल्खा सिंह के घर पर आने वाले थे.

सपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी दुख जताते हुए कहा, भारत के जाने-माने एथलीट एवं ‘फ़्लाइंग सिख’ के नाम से मशहूर मिल्खा सिंह जी के कोरोना से निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति व शोकाकुल परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें.

सीएम नीतीश कुमार ने लिखा है, फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह जी के निधन का समाचार अत्यंत दुखद है. देश उनके योगदान को हमेशा याद रखेगा. उनके निधन से खेल जगत को अपूरणीय क्षति हुई है. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें. राहुल गांधी ने लिखा है, मिल्खा सिंह जी केवल स्पोर्ट्स स्टार नहीं थे वो करोड़ों लोगों की प्रेरणा के स्रोत थे. उनके परिजनों और दोस्तों के प्रति संवेदना, भारत अपने फ्लाइंग सिख को याद रखेगा.

प्रियंका गांधी ने लिखा है, ‘देश में जब भी उड़ान की कहानियां कही जाएंगी, तब एक ऐसी शख्सियत का नाम जरूर आएगा जिसने रेस के मैदान में देश और करोड़ों भारतीय युवाओं के सपनों को एक नई ऊंचाई दी. मिल्खा सिंह जी, विनम्र श्रद्धांजलि.’

फिल्म अभिनेता और मिल्खा सिंह पर बनीं फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाले फरहान अख्तर ने भी संवेदना प्रकट की है. उन्होंने लिखा है. मेरे मन का एक हिस्सा यह मानने को बिल्कुल राजी नहीं है कि आप नहीं रहें. वो सकता है यह जिद है. वहीं जिद जो मैंने आप से सीखी थी.’ महानायक अमिताभ बच्चन ने लिखा है- ”दुखद, मिल्खा सिंह चले गए, भारत के गौरव, एक महान एथलीट, एक महान इंसान, वाहेगुरु दी मेहर, प्रार्थनाएं…”

सेना ने भी प्रकट की संवेदनाएं
सीडीएस चीफ जनरल बिपिन रावत ने भी मिल्खा सिंह के निधन पर संवेदना जताई. उन्होंने कहा कि मिल्खा सिंह ने देश को प्रेरणा दी कि कैसे विषम परिस्थितियों में अडिग रहते हैं. मैं उनके प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट करता हूं. वह हम सभी के लिए प्रेरणा थे. मिल्खा सिंह एक सच्चे सिपाही, वह चले गए लेकिन अपने पीछे एक ऐसा विरासत छोड़ गए जिसपर हम सभी को गर्व है. भारतीय सेना ने मिल्खा सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया. सेना की तरफ से कहा गया कि वह एक लेजेंड थे जो खिलाड़ियों की पीढ़ी को प्रेरित करते रहेंगे. वह अपनी उपलब्धियों के लिए याद किए जाएंगे.