October 28, 2021

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

अवैध हथियारों की तस्करी करने वाले दो लोग गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अवैध हथियारों की तस्करी कर रहे एक गैंग का पर्दाफाश करते हुए दो हथियारों के तस्कारों को गिरफ्तार किया है. स्पेशल सेल की टीम ने इनके पास से 15 अवैध पिस्तौल और 40 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं. गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों के नाम शिवम शर्मा और कृष्ण कुमार है. यह दोनों ही उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के रहने वाले हैं. स्पेशल सेल की मानें तो इस गैंग के तार दिल्ली और यूपी समेत पांच राज्यों से जुड़े थे.

दरअसल, स्पेशल सेल की टीम को जानकारी मिली थी कि हथियार की तस्करी करने वाले दो तस्कर 14 सितंबर की देर शाम राजधानी दिल्ली के आनंद विहार इलाके में आने वाले हैं. पुलिस की टीम के पास यह भी जानकारी थी कि इन दोनों ने बड़ी मात्रा में हथियार खरीदे हैं. जानकारी मिलते ही स्पेशल सेल की टीम ने आनंद विहार इलाके में ट्रैप लगाया. जैसे ही यह दोनों तस्कर आनंद विहार इलाके में पहुंचे तो इन्हें धर दबोचा गया.

जब इन दोनों के बैग की तलाशी ली गई तो एक आरोपी शिवम के बैग से 8 सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल और 20 जिंदा कारतूस बरामद हुए जबकि कृष्ण के बैग से 2 सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल, 5 सिंगल शॉट पिस्तौल और 20 जिंदा कारतूस बरामद किए गए. स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुमार कुशवाहा के मुताबिक जब दोनों से पूछताछ की गई तब उन्होंने बताया कि यह दोनों मध्य प्रदेश के बरहानपुर इलाके से यह अवैध हथियार खरीदते और इन हथियारों को बदमाशों को बेच देते थे.

पुलिस की मानें तो पूछताछ में उन्होंने बताया की 1 सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल 7 हजार रुपये में जबकि सिंगल शॉट पिस्तौल 1 हजार रुपये में खरीदते थे और दूसरे बदमाशों को यह सेमी ऑटोमेटिक पिस्तौल 25 हजार रुपये में और सिंगल शॉट पिस्तौल 4 हजार रुपये में बेच दिया करते थे. स्पेशल सेल का कहना है कि यह दोनों पिछले काफी समय से अवैध हथियारों के इस धंधे में शामिल थे. मध्य प्रदेश से हथियार खरीद कर दिल्ली-एनसीआर में बदमाशों को बेचते थे. पूछताछ में इन अवैध हथियारों के तस्करों ने यह भी बताया कि पिछले 4 साल से वह इस धंधे में शामिल थे और 600 से ज्यादा अवैध हथियारों की सप्लाई दिल्ली एनसीआर में कर चुके हैं.