January 21, 2022

Dainandini

Chhattisgarh Fastest Growing News Portal

जहां फंसा था मोदी का काफिला, वहीं मिली पाकिस्तानी नाव:सतलुज नदी के रास्ते भारत पहुंची

रायपुर,

 

फिरोजपुर में सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने सतलुज नदी से एक पाकिस्तानी नाव बरामद की है। बरमदगी के वक्त यह नाव खाली थी। सुरक्षा एजेंसियों ने जांच शुरू कर दी है। यह पता लगाया जा रहा है कि यह नाव यहां कब आई, इसमें कौन लोग सवार थे और इसे यहां लाए जाने का मकसद क्या था।

सतलुज नदी में जो पाकिस्तानी नाव मिली है, वह उस जगह मिली है, जहां से नदी पाकिस्तान में प्रवेश करती है।

इस पाकिस्तानी नाव की बरामदगी इसलिए अहम है, क्योंकि दो दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफिला यहां फंसा था। उनकी सुरक्षा में चूक का मुद्दा राष्ट्रीय बहस का विषय बन चुका है।

फिरोजपुर में जहां फंसा था PM का काफिला, वहीं तलब किए गए पंजाब के ADGP समेत आला अफसर

सतलुज नदी हुसैनीवाला से पाकिस्तान में प्रवेश करती है, फिर इन जगहों पर जाती है,

गत्ती तेलू वाला मल, फिरोजपुर
डोना तेलू मलवाला, फिरोजपुर
गत्ती महमूदके हिथार, फिरोजपुर
राजा राय, फिरोजपुर
डोना मित्तर
डोना बहादुरके, गुरु हरसहाय एरिया, फिरोजपुर
वाले शाह हिथार, बग्गू हट्‌टी, फाजिल्का

केंद्र की हाई लेवल जांच कमेटी आज इसी जिले में
पाकिस्तानी नाव ऐसे मौके पर बरामद हुई है, जब केंद्र सरकार की हाई लेवल कमेटी PM की सुरक्षा में चूक की जांच के लिए फिरोजपुर पहुंची हुई है। इसमें गृह मंत्रालय के सुरक्षा सचिव सुधीर कुमार, IB के जॉइंट डायरेक्टर बलबीर सिंह और SPG के IG एस. सुरेश शामिल हैं।

संवेदनशील जिला है फिरोजपुर
फिरोजपुर पाकिस्तान की सीमा से सटा होने की वजह से बेहद संवेदनशील जिला है। जहां PM का काफिला रुका था, वह जगह भी पाकिस्तान सीमा से महज 50 किमी दूरी पर है। इस क्षेत्र में कई बार टिफिन बम और विस्फोटक मिल चुके हैं। नवंबर में दिवाली से पहले भी भारत-पाक सीमा के गांव से पुलिस ने टिफिन बम बरामद किया था। यहां से हैंड ग्रेनेड भी बरामद किए जा चुके हैं।