छत्तीसगढ़

30 ग्रामीणों को बनाया बंधक…मजदूरी करने गए लोगों को बिहार से छुड़ाया…आरोपी फरार

रायपुर। ग्राम चितावर के 30 ग्रामीणों को बिहार राज्य शेरघाटी में बंधवा मजदूर बनाकर काम लिया जाता था। जिसे बंधक मुक्त कराने में पुलिस टीम को मिली बड़ी सफलता मिली। बंधक मुक्त ग्रामीणों के परिजनों में हर्ष का माहौल है। लेबर सरदार ओमप्रकाश कुर्रे ग्राम बिनायका द्वारा भ्रामक जानकारी देकर ले जाया गया था।

बिहार पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के निर्देशन में तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय ध्रुव के मार्गदर्शन में थाना कसडोल चौकी लवन अंतर्गत ग्राम चितावर के 30 ग्रामीण जो बिहार राज्य के जिला गया, शेरघाटी में ईट भट्ठा मालिक द्वारा बंधक बनाकर प्रताडऩा का शिकार हो रहे थे।

जिनको वापस लाने में बलौदाबाजार पुलिस टीम को बड़ी सफलता मिली है। अग्रवाल ने बताया कि थाना कसडोल चौकी लवन अंतर्गत ग्राम चितावर के 30 ग्रामीणों को बिहार राज्य, जिला गया क्षेत्र अंतर्गत शेरघाटी में बंधक बनाकर कार्य कराने की जानकारी मिली थी जिस पर थाना कसडोल चौकी लवन में 370 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर जिला पुलिस एवं प्रशासन की टीम बनाकर बिहार राज्य भेजा गया था।

आज टीम ने 11 पुरूष 09 महिला एवं 10 बच्चों को बिहार राज्य जिला गया, शेरघाटी में ईट भट्ठा मालिकों के ईट भट्ठा से छूड़ाकर देर रात जिला बलौदाबाजार लाया गया और सभी का बयान दर्ज किया गया। आरोपीयों के विरूद्ध उचित वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

और आगे बताया कि जब टीम वहां गई तो आरोपीगण मौके से फरार हो चुके थे, वहां से ग्रामीणों को बंधक मुक्त कराकर सकुशल वापस लाना हमारी प्राथमिक जिम्मेदारी थी, जिसको हमने पूर्ण तत्परता के साथ किया और आरोपीयों के विरूद्ध उचित वैधानिक कार्यवाही करने प्रतिबद्धता जाहिर की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close